रानीगंज में शिव प्राण प्रतिष्ठा महायज्ञ का समापन

रानीगंज। जय माता दी स्पोर्टिंग क्लब द्वारा आयोजित श्री 1008 शिव प्राण प्रतिष्ठा महायज्ञ का आज समापन हुआ। इस अवसर पर देश के विख्यात कथाकार एवं भजन गायक प्रवचन और भजनों के माध्यम से उपस्थित श्रद्धालुओं को भक्तिमय कर दिया। काशी से आए आचार्य लव कुश शास्त्री ने शिव महिमा पर प्रकाश डालते हुए कहा कि भगवान शिव जहां भी सत्य है, वहीं शिव का वास है। शिव के साथ सारी विषमता है। वे औघड़, आशुतोष, देवों में महादेव, रुद्र, गृहस्थ, महायोगी, त्यागी, तपस्वी, पिता और गुरु हैं। उन्होंने शिव की महिमा और उनके विभिन्न रूपों पर विस्तार से चर्चा की। कथा वाचक वृंदावन की देवी दीप्ति श्री जी ने राधा-कृष्ण की प्रेम गाथा को भक्तों के साथ साझा किया और वृंदावन की होली के महत्व को भी बताया। इस दौरान जय माता दी स्पोर्टिंग क्लब के अध्यक्ष जयप्रकाश साव ने कहा कि रानीगंज में श्री 1008 शिव प्राण प्रतिष्ठा महायज्ञ के माध्यम से सनातन धर्म का प्रचार और प्रसार हो रहा है। महासचिव विकास साव ने कहा कि रानीगंज का यह प्रांगण भक्ति में डूब गया है। सप्ताह भर यहां पूजा-अर्चना, हवन और कीर्तन के कार्यक्रम आयोजित हुए, जिसमें आचार्य लव कुश शास्त्री और वृंदावन से आए स्वामी श्री राज दीक्षित ने विशेष भूमिका निभाई।


कमेटी के सदस्य प्रदीप साव और अनिल अग्रवाल ने बताया कि इस चंचल क्षेत्र में पहली बार इस प्रकार का धार्मिक आयोजन हुआ है। रामलीला का मंचन भी किया गया, जो काफी लोकप्रिय रहा। इस कार्यक्रम को सफल बनान में पुरोहित प्रवीण पाण्डेय, अध्यक्ष जयप्रकाश साव, सचिव विकास साहू, प्रदीप साव, अजय साव, बिक्की साहा, सुनील बर्मन, जय साव, प्रमोद साव, कन्हैया साव, और विक्की कोइरी समेत कमेटी के सदस्यों ने अहम भूमिका निभाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Open chat
1
Hello
Can we help you?